दुखदः बिहार में कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान के दौरान डूबने से 24 की मौत

कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर गंगा सहित राज्य की अन्य नदियों में लाखों लोगों ने स्नान किया। लेकिन स्नान के दौरान राज्यभर में 24 लोगों की मौत हो गई। देर शाम तक जिलों से आपदा प्रबंधन विभाग को मिली जानकारी के अनुसार सबसे अधिक पटना में पांच लोगों की मौत हुई है। पटना जिले में छह और बिहारशरीफ में जहां पांच लोगों की जान चली गई वहीं नवादा में दो छात्राओं सहित तीन जबकि छपरा में तीन की डूबने से मौत हो गई। उत्त्त्तर बिहार में विभिन्न घाटों पर पांच लोग डूबे जिनमें तीन की मौत हो गयी। जहानाबाद में दो सहित गया में एक और औरंगाबाद में भी दो की डूबने से असामयिक मौत हो गई।  आपदा प्रबंधन विभाग को मिली जानकारी के अनुसार सूबे में स्नान के दौरान डूबने वालों की संख्या 20 है।

आपदा प्रबंधन विभाग ने नियमानुसार मृतक के परिजनों को चार-चार लाख का अनुग्रह अनुदान देने को कहा है। जिलाधिकारियों को विभाग ने कहा है कि वे मृतक के परिजनों को तत्काल चार लाख का चेक प्रदान करें। वहीं आपदा बलों ने डूबने से कई लोगों की जान भी बचाई है। एसडीआरएफ और एनडीआरएफ ने पटना सहित कई जिले में डूबने से दर्जनों लोगों को बचाया। अधिकारियों ने कहा कि अगर आपदा राहत बल नहीं होते तो मरने वालों की संख्या में और इजाफा हो जाता। लेकिन बल के जवानों की सतर्कता के कारण कई लोगों की जान बच गई। मोतिहारी में गंगा स्नान करने गए युवक लापता : पूर्वी चम्पारण के डुमरियाघाट पर गंगा स्नान के दौरान एक युवक डूब गया। देर शाम तक उसका सुराग नहीं मिल सका है। लापता कुंदन कुमार(19) संग्रामपुर थाने के भवानीपुर ठिकहा का निवासी है।

The content does not represent the perspective of UC
READ SOURCE
Read Full Story in UC Browser
Share to your friends
Hot Comments
Read More Comments
--
No
Yes
A Elephant suddenly attack a biker