3 पत्नियों वाले इस भिखारी की महीने की कमाई जानकर आपको भी शर्म आ जाएगी

भिखारी तो उन्हें ही कहा जाता है जो गरीब और असहाय होते है या जिनके पास पैसा कमाने का कोई साधन नहीं होता और इसलिए वो भीख मांगते है. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे भिखारी से मिलवाने जा रहे हैं जिसकी आलिशान जिंदगी के बारे में सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे. ये भिखारी झारखंड का रहने वाला है. लोग जिसे भिखारी और गरीब समझते थे जब उसकी असलियत सामने आई तो हर कोई हैरान हो गया क्योकि ये तो भिखारी नहीं बल्कि लखपति निकला.

जी हां... अब सुनकर तो शायद आपके भी होश उड़ गए होंगे लेकिन ये सच है. वैसे ये पहली बार नहीं है जब किसी भिखारी के लखपति या करोड़पति होने की बात सामने आई हो बल्कि पहले भी ऐसा कई बार सुनने में आया है. लेकिन आज हम जिस भिखारी के बारे में बात कर रहे हैं वो झारखंड के चक्रधरपुर रेलवे स्टेशन पर भीख मांगता है. लेकिन असल में ये एक बर्तन व्यापारी है. इस भिखारी का नाम छोटू बारीक़ है. हैरानी वाली बात तो ये है कि जहां आज के समय में कुछ लोगों की एक शादी ही नहीं हो रही है वहीं इस भिखारी ने तीन-तीन शादियां की है.

ये भिखारी रेलवे स्टेशन पर बैठकर दिनभर भीख मांगता है और इसकी तीनों ही पत्नियां मिलकर बर्तन की दुकान चलाती हैं. सूत्रों की माने तो ये भिखारी दिनभर में लगभग एक हजार से बारह सौ रुपए की कमाई कर लेता है यानी इस हिसाब से अगर इसकी महीने की कमाई देखि जाए तो सिर्फ भीख मांगकर ही ये 25 से 30 हजार रूपए कमा लेता है. हैरानी वाली बात तो ये है कि इस भिखारी के साथ और भी 20 लोग काम करते है और वो उन सब से भी कमीशन लेता है.

ये कंटेंट UC के विचार नहीं दर्शाता है
संदर्भ पढ़ें
पढ़ें पूरी कहानी, UC Browser पर
दोस्तों संग शेयर करें
हॉट कमैंट्स
और कॉमेंट्स पढ़े
--
नहीं
हां
लड़की का जूता जब लगा मुंह पर तब कैसे अकल ठिकाने आई खुद देख लीजिए